NEET Exam kya hai – इसकी तैयारी कैसे करें – Lnmu Exam

NEET Exam kya hai – इसकी तैयारी कैसे करें

नमस्कार दोस्तों, NEET Exam kya hai? अपने जीवन के अंतर्गत अक्सर नीट की परीक्षा के बारे में तो जरूर सुना होगा, NEET की परीक्षा का नाम भारत की सबसे प्रमुख परीक्षाओं की सूची के अंतर्गत आता है। दोस्तों क्या आप जानते हैं कि नीट की परीक्षा क्या होती है तथा इसकी तैयारी किस तरीके से की जाती है। यदि आपको इस सवाल का जवाब मालूम नहीं है, तथा आप इसके बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको इसके बारे में संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं।

नीट की परीक्षा क्या होती है? (NEET Exam kya hai eski taiyari kaise kare)

यदि आप NEET की तैयारी करना चाहते हैं, तो सबसे पहले आपको इस विषय को समझना काफी आवश्यक होता है, कि आखिर नीट की परीक्षा क्या होती है।

तो आपकी जानकारी के लिए मैं बता दूं, कि NEET भारत के टॉप मेडिकल कॉलेज के अंतर्गत एडमिशन लेने के लिए एक प्रकार का एंट्रेंस एग्जाम होता है, यानी कि जो भी विद्यार्थी मेडिकल कॉलेज के अंतर्गत पढ़ना चाहता है, या फिर अच्छी मेडिकल कॉलेज के अंतर्गत एडमिशन लेना चाहता है, तो ऐसे में उसको नीट की परीक्षा पास करना होता है, तथा उसके अंतर्गत मेरिट के हिसाब से उसका टॉप कॉलेज के अंतर्गत सिलेक्शन होता है।

जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं कि यदि कोई भी विद्यार्थी मेडिकल की पढ़ाई करना चाहता है तो उसका यही उद्देश्य होता है कि उसे भारत की तो कॉलेज के अंतर्गत एडमिशन मिले, लाखो विद्यार्थी ऐसा करना चाहते हैं, लेकिन उनमें से कुछ हजार विद्यार्थियों को भी इसी कॉलेज के अंतर्गत एडमिशन मिल पाता है। तो इसके लिए ही NEET का एंट्रेंस एग्जाम करवाया जाता है, और फिर मेडिकल कॉलेज के लिए बच्चों का उस एग्जाम के माध्यम से सिलेक्शन किया जाता है।

नीट के लिए क्या योग्यताएं होनी आवश्यक है?


यदि कोई भी स्टूडेंट नेट का एग्जाम देना चाहता है, तो उसका 12वीं कक्षा तक पढ़ा हुआ होना जरूरी होता है, इसके अलावा उसके बारहवीं कक्षा के अंतर्गत फिजिक्स ,केमिस्ट्री, और बायोलॉजी सब्जेक्ट का होना जरूरी है। इसके विपरीत यदि पर्सेंट के बारे में बात की जाए तो आपके कम से कम 50 पर्सेंट होना जरूरी है, इसके अलावा अगर आप आरक्षित वर्ग के अंतर्गत आते हैं, तो आपके 40% होना आवश्यक है।

यदि किसी भी विद्यार्थी की उम्र 17 वर्ष से लेकर 30 वर्ष के बीच है तो वह नीट का एग्जाम दे सकता है, इसके अलावा कोई भी विद्यार्थी अपनी उम्र पूरी होने तक कितने भी नीट की परीक्षा को दे सकता है।

NEET की परीक्षा का पैटर्न


अगर नीट की एग्जाम के परीक्षा के पैटर्न के बारे में बात की जाए, तो तो यहां पर आपको फुल 720 नंबर का पेपर देखने को मिलता है, जिसके अंतर्गत कुल 180 सवाल पूछे जाते हैं, और प्रत्येक सवाल के आपको चार नंबर मिलते हैं, इसके अलावा कोई भी जवाब गलत होने पर आपका एक नंबर काट लिया जाता है।

यह एग्जाम ऑफलाइन करवाया जाता है, इसके अलावा इस एग्जाम के दौरान आप सिर्फ ब्लू पेन या फिर ब्लैक पेन का इस्तेमाल कर सकते हैं।इसके अंतर्गत आपको हर एक सब्जेक्ट से कुल 45 प्रश्न पूछे जाते हैं, और हर एक सब्जेक्ट के कुल 180 नंबर होते हैं।

नीट परीक्षा की तैयारी कैसे करें ?


यदि आप NEET की परीक्षा देना चाहते हैं, तथा आप इसकी तैयारी करने के बारे में सोच रहे हैं, तथा आप जानना चाहते हैं, कि इसकी तैयारी आप किस तरीके से कर सकते हैं तो आप नेट की तैयारी करने के लिए निम्न अलग-अलग तरीकों का इस्तेमाल कर सकते हैं :-

  • जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं कि नीट की परीक्षा के अंतर्गत अधिकांश सवाल 11वीं तथा 12वीं कक्षा के सिलेबस से ही पूछे जाते हैं, इसके अलावा लगभग 70% सवाल आपके एनसीईआरटी के सिलेबस से ही आते हैं। तो ऐसे में आप नीट की परीक्षा की तैयारी करना चाहते हैं, तो आप 11वीं तथा 12वीं के साथ ही इसकी तैयारी करना शुरू कर सकते हैं, जिसके अंतर्गत आपको एनसीईआरटी के सभी को टॉपिक को समझने का प्रयास करना है तथा उनकी स्टडी करनी है।
  • जब आप एनसीईआरटी के सिलेबस को कंप्लीट कर लेते हैं, या फिर एनसीईआरटी की सभी किताबों को पढ़ लेते हैं, तो उसके बाद में मार्केट के अंतर्गत ऐसी अनेक किताबें देखने को मिल जाती हैं, जिनको सिर्फ नीट की परीक्षा के लिए ही डिजाइन किया गया होता है, और उनके अंतर्गत सिलेबस भी नीट की परीक्षाओं को ध्यान में रखकर ही डाला जाता है तो फिर आपको उन किताबों को पढ़ना होता है, जहां पर आपको काफी मुश्किल सवाल देखने को मिलते हैं, और उन्हीं सवालों को आप को हल कर कर नेट की परीक्षा की तैयारी करनी होती है।
  • इसके अलावा आपको मार्केट के अंतर्गत बहुत सारी ऐसी कोचिंग देखने को मिल जाती है, तो आपको NEET की काफी अच्छी तैयारी करवाती है, तो वैसे में आप उन कोचिंग को भी ज्वाइन कर सकते हैं, क्योंकि वहां पर आपको NEET की तैयारी काफी एडवांस लेवल पर करवाई जाती है।
  • इसके विपरीत आप 11वीं तथा 12वीं कक्षा के साथ भी NEET की कोचिंग ज्वाइन कर सकते हैं, आज के समय अधिकांश कोचिंग 11वीं तथा 12वीं कक्षा के साथ ही आपको नीट की कोचिंग देना शुरू कर देते हैं, या फिर नीट की तैयारी कर रवाना शुरू कर देते हैं, इन कोचिंग के अंतर्गत आपको 11वीं तथा 12वीं का सिलेबस नीट की परीक्षा को ध्यान में रखकर पढ़ाया जाता है, आपको इस तरीके से तैयारी करवाई जाती है, कि आप NEET की परीक्षा के अंतर्गत पूछे जाने वाले सवालों का हल कर सके, जिसके लिए आपकी कक्षा के सिलेबस को भी कभी हार्ड तरीके डिजाइन किया जाता है।
  • इसके अलावा आपको समय-समय पर मॉक टेस्ट देना काफी आवश्यक रहता है, अलग-अलग कोचिंग सेंटर के द्वारा इस तरह के टेस्ट का आयोजन करवाया जाता है, जहां पर हजारों की संख्या में विद्यार्थी इन टेस्ट के अंतर्गत हिस्सा लेते हैं। यदि आप किसी भी कोचिंग सेंटर के अंतर्गत एडमिशन लेते हैं, तो वहां पर आपको लगातार मात्रा के अंतर्गत टेस्ट देखने को मिलते हैं। इससे पहला फायदा तो आपको यह देखने को मिलता है, कि आपको अपने स्तर का पता लग जाता है, आपको पता लग जाता है, कि आपको क्या-क्या चीजें आती है, क्या-क्या चीजें आपको उनको करने की जरूरत होती है। और साथ में लगातार टेस्ट देने से आप की प्रेक्टिस काफी अच्छी हो जाती है तथा आप मेन एग्जाम के अंतर्गत काफी अच्छा परफॉर्मेंस दे पाते हैं।
  • इसके अलावा अंत में मैं आपको यह कहना चाहता हूं, कि नीट की परीक्षा के अंतर्गत लगभग 50% प्रश्न बायोलॉजी विषय से पूछे जाते हैं, तो ऐसे में यदि किसी भी विद्यार्थी की बायोलॉजी विषय के ऊपर काफी अच्छी पकड़ होती है, या फिर वह बायोलॉजी के विषय में काफी इंटेलिजेंट होता है, तो उसको काफी अच्छा एडवांटेज मिल सकता है, तो ऐसे में आपका फोकस बायोलॉजी विषय ही होना चाहिए, हालांकि आपको बाकी दो विषयों पर भी फोकस करना होता है, क्योंकि नीट की परीक्षा के अंतर्गत आपको काफी ऊंचे लेवल का कंपटीशन देखने को मिलता है, तथा इसके अंतर्गत आप एक भी नंबर कम अफोर्ड नहीं कर सकते हैं।

तो दोस्तों आप इस तरीके से नेट की परीक्षा के लिए तैयारी कर सकते हैं, जहां पर हमने आपको पूरी कोशिश को बताया है। हालांकि किसी भी विद्यार्थी के लिए यह जर्नी काफी ज्यादा कठिन होती है, तथा काफी समस्याओं से भरी हुई होती है, आपको बहुत सारे चैलेंज का सामना करना होता है लेकिन जब आप इन चैलेंज का सामना करते हैं, तभी आप अमीर जैसी परीक्षा के अंतर्गत एक अच्छा कंपटीशन दे पाते हैं, तथा एक अच्छी मेडिकल कॉलेज के अंतर्गत एडमिशन ले पाते हैं।

निष्कर्ष – NEET Exam से संबंधित


तो दोस्तों इस पोस्ट के माध्यम से आपने जाना कि NEET क्या होता है, NEET Exam kya hai और इसकी तयारी कैसे करें, NEET परीक्षा की तैयारी कैसे की जाती है। हमें उम्मीद है कि आपको हमारे द्वारा दी गई यह इंफॉर्मेशन पसंद आई है, तो आपको इस पोस्ट के माध्यम से कुछ नया सीखने को मिला है।

दोस्तों अगर आपको इसमें दिए गए जानकारी पसंद आई हो तो उसे अपने दोस्तों के बीच इस आर्टिकल को शेयर कर उन्हें भी NEET Exam की जानकारी दें।

Leave a comment